0.9 C
London
Tuesday, February 7, 2023
HomeBreaking Newsआज सीएम करेंगे सौगातों की बरसात

आज सीएम करेंगे सौगातों की बरसात

Date:

Related stories

spot_imgspot_img
  • सरकार के दो वर्ष पूरे होने पर राज्य भर में कार्यक्रम : मुख्य समारोह मोराबादी में, पांच हजार लोग होंगे शमिल

आजाद सिपाही संवाददाता
रांची। महागठबंधन सरकार के दो वर्ष पूरे होने पर मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन 29 दिसंबर बुधवार को कई विकास योजनाओं का शिलान्यास और उद्घाटन करेंगे। वहीं कई योजनाओं की शुरूआत भी होगी। सीएम राज्य वासियों को कई सौगात देंगे। मुख्य कार्यक्रम मोराबादी मैदान में होना है। इसकी तैयारी पूरी कर ली गयी है। दिन के 12 बजे से कार्यक्रम की शुरूआत होगी। हेमंत सोरेन की अगुवाई में झामुमो कांग्रेस और राजद की महागठबंधन की सरकार 29 दिसंबर 2019 को सत्ता में आयी थी। कोरोना संक्रमण के कारण 2020 में कोई कार्यक्रम का आयोजन नहीं हुआ था। इस बार सरकार रांची समेत पूरे राज्य में कार्यक्रम का आयोजन कर रही है। मुख्यमंत्री मंच से पूरे राज्य के लिए 12558 करोड़ की योजनाओं का शिलान्यास करेंगे। वहीं 3195 करोड़ की योजनाओं का उद्घाटन करेंगे। जिसे राज्यवासियों को समर्पित किया जायेगा। इसके अलावा 1493 करोड़ की परिसंपत्तियों और नियुक्ति पत्र का वितरण भी कार्यक्रम में होगा।
मुख्यमंत्री धनबाद के बलियापुर निरसा, रांची के बुंडू, गुमला के विष्णुपुर और बोकारो के पेटरवार में प्रखंड सह अंचल कार्यालय के नवनिर्मित भवन के अलावा श्यामा प्रसाद मुखर्जी मिशन के तहत 32 योजनाओं का उद्घाटन करेंगे।

स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड योजना
दो वर्ष पूरे होने पर युवाओं को एक खास तोहफा दिये जाने की तैयारी की गयी है। मुख्यमंत्री झारखंड के छात्रों के लिए स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड योजना लांच करेंगे। इसके अलावा किसान पाठशाला, नयी पर्यटन नीति, हजार दिनों का पोषण अभियान आदि की भी शुरूआत किये जाने की उम्मीद है। 12वीं पास छात्रों के लिए कम ब्याज पर ऋण उपलब्ध हो, इसके लिए स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड स्कीम की शुरूआत होगी।

5000 लोग होंगे शामिल
मोराबादी में आयोजित समारोह में 5000 लोगों को बुलाया गया है। इसमें लाभुक भी रहेंगे। साथ ही सभी जिला को इससे जोड़ा जायेगा। मुख्यमंत्री किसी भी लाभुक से सीधे बात कर सकते हैं। सीएम चाहते हैं कि सरकार की विकास योजनाओं का लाभ समाज के अंतिम पायदान तक पहुंचे। साथ ही जो योजनाएं बने, वे आम लोगों के लिए हो।

तैयारी देखने अधिकारियों के साथ मोराबादी मैदान पहुंचे मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन
मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन मंगलवार को अधिकारियों के साथ मोराबादी मैदान पहुंचे। सरकार गठन को लेकर होने वाले कार्यक्रम की तैयारी को देखा। वहां उपस्थित पदाधिकारियों से बिंदुवार जानकारी ली। सीएम ने कोविड-19 की गाइडलाइन का पालन करने और सोशल डिस्टेंसिंग के अनुसार ही लोगों के बैठने का इंतजाम करने का निर्देश दिया। इस मौके पर मुख्य सचिव सुखदेव सिंह, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव राजीव अरुण एक्का, प्रधान सचिव बंदना डाडेल, मुख्यमंत्री के सचिव विनय कुमार चौबे, सचिव केके सोन, पूजा सिंघल, अमिताभ कौशल, प्रशांत कुमार और पीआरडी डायरेक्टर राजीव लोचन बख्शी के अलावा नगर आयुक्त मुकेश कुमार, रांची के डीसी छवि रंजन और अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे। राज्यपाल होंगे मुख्य अतिथि : राज्यपाल रमेश बैस मुख्य अतिथि होंगे। कार्यक्रम की अध्यक्षता मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन करेंगे। इसमें विशिष्ट अतिथि के रूप में झामुमो के अध्यक्ष और सांसद शिबू सोरेन, कांग्रेस नेता पूर्व गृह राज्य मंत्री आरपीएन सिंह सम्मानित अतिथि के रूप में उपस्थित रहेंगे। कार्यक्रम में मंत्री आलमगीर आलम, सत्यानंद भोक्ता, सांसद संजय सेठ, महापौर आशा लाकड़ा, भाजपा विधायक सीपी सिंह, आजसू के सुदेश महतो, भाजपा के विधायक नवीन जायसवाल, मांडर के कांग्रेस विधायक बंधु तिर्की, तमाड़ के विधायक विकास मुंडा और खिजरी विधायक राजेश कश्यप भी शामिल होंगे।

सरकारी महकमे को लोगों के दरवाजे तक पहुंचाया : हेमंत
रांची। पहले सरकार जिला और ब्लाक मुख्यालय से काम करती थी। सरकारी महकमे को राज्य मुख्यालय से उठा कर गांव, पंचायत और लोगों के दरवाजे तक पहुंचाया। अब मिनटों में राशन कार्ड और पेंशन कार्ड बन रहा है। लोगों का हक और अधिकार उनके हाथों में देने का अपना अलग आनंद है। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन सरकार के दो वर्ष पूरे होने के मौके पर अपने सरकारी आवास में मीडिया से रूबरू हुए। अपने दो वर्ष के शासनकाल के दौरान अंतिम व्यक्ति तक कल्याणकारी योजनाओं का लाभ पहुंचाने को वे सबसे बड़ा काम बताते हैं। कहते हैं- 2014 के बाद पैदा हुआ डर, भय और अशांति का डरावना वातावरण आज नहीं है। निर्णय लेने में कभी दिक्कत नहीं हुई। सरकार चौकन्ना रहकर निर्णय लेती है। एक मायने में कठिन हर क्षण रहा है। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि लोगों के दर्द और तकलीफ का समाधान करना है। लोगों को अधिकार उनके हाथों में देना है, जिसके लिए लोग वर्षों से तरस रहे थे। बिचौलियों को समाप्त किया। पेंशन के लिए छह हजार रुपये घूस देना पड़ता था। अब इसमें दलालों का काम कहां। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि 70-75 लाख लोगों को यूनिवर्सल पेंशन योजना का लाभ देना है। सरकार दिनरात राज्य के लोगों के सुख-दुख को ध्यान में रखकर खड़ी है। आज कर्मचारी रात दो बजे तक बैठकर लोगों का काम कर रहे हैं। सिर्फ पेंशन स्कीम में 3.70 लाख आवेदन आये। 2.45 लाख लोगों को पेंशन का भुगतान किया जा चुका है। उन्होंने शिक्षा और स्वास्थ्य को कामकाज का कोर क्षेत्र बताते हुए कहा कि सड़क और पुल-पुलिया भी बनेंगे। सरकार डिजिटल स्किल यूनिवर्सिटी बनायेगी। इससे हर क्षेत्र के नौजवानों को आगे बढ़ने का मौका मिलेगा।

Subscribe

- Never miss a story with notifications

- Gain full access to our premium content

- Browse free from up to 5 devices at once

Latest stories

spot_img