0.5 C
London
Tuesday, February 7, 2023
HomeBreaking Newsदेर रात प्रधानमंत्री मोदी और मुख्यमंत्री ने पैदल चल काशी में हुए...

देर रात प्रधानमंत्री मोदी और मुख्यमंत्री ने पैदल चल काशी में हुए बदलाव को देखा

Date:

Related stories

spot_imgspot_img

—फिर डमरू वाले सरकार बाबा विश्वनाथ के दरबार में पहुंचे
—मासूम बच्चे को दुलारा, बनारस स्टेशन का किया निरीक्षण

वाराणसी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार देर रात अपने संसदीय क्षेत्र में सड़कों पर पैदल चलकर विकास कार्यो और शहर में हुए बदलाव को अपनी आंखों से देखा। पूरे दिन काशी विश्वनाथ धाम लोकार्पण समारोह,गंगा में नौका विहार आदि व्यस्ततम कार्यक्रमों में भाग लेने के बाद देर रात प्रधानमंत्री प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ रवींद्रपुरी कालोनी होते अचानक गोदौलिया पहुंच गए। फिर अपने वाहन से उतर कर प्रोटोकाल से इतर मुख्यमंत्री के साथ पैदल ही दशाश्वमेध की ओर निकल गये।

सड़कों पर प्रधानमंत्री को पैदल चलते देख नागरिक हैरत में पड़ गये। फिर हर—हर महोदव के उदघोष से उनका गर्मजोशी से स्वागत किया। प्रधानमंत्री ने भी लोगो का अभिवादन स्वीकार किया । जिला प्रशासन के अफसर भी पीछे—पीछेे चल रहे थें प्रधानमंत्री जब ड़ेढ़सीपुल के पास पहुंचे तो अचानक वाराणसी परिक्षेत्र के कमिश्नर दीपक अग्रवाल को बुलाया। उनसे विकास कार्यो की जानकारी लेने के पूछा कि गोदौलिया में गंगा का जल स्तर कहां तक आता है। फिर इसका कारण पूछा। कमीश्नर ने विस्तार से और बिंदूवार लगभग 20 मिनट तक बताया।

इस दौरान प्रधानमंत्री पूरी गंभीरता से उनकी बात सुनते रहे। फिर उन्होंने कमिश्नर की सराहना कर पीठ थपथपाई। उन्होंने कहा कि जनसहयोग से दशाश्वमेध मार्ग समेत पूरे क्षेत्र को और भव्य बनाया जाए। इसी दौरान एक दम्पति को बच्चे के साथ जाता देख प्रधानमंत्री प्रोटोकाल तोड़ कर उनके पास पहुंचे तो दम्पति अचकचा गये। फिर मुस्कराते हुए प्रधानमंत्री का अभिवादन किया तो प्रधानमंत्री ने उनके मासूम बच्चे को दुलारा और प्यार किया। यह देख मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी बच्चे के सिर पर स्नेह से हाथ फेरा। कुछ देर बच्चे को स्नेह देने के बाद प्रधानमंत्री ने उनका हाल—चाल पूछा। कहा कि इतनी रात में घुम रहे है डर नही लगता। इस पर राजस्थान के दम्पति ने कहा कि नही। प्रधानमंत्री ने बच्चे का नाम पूछा तो परिजनों ने बताया प्रणय सक्सेना। बच्चे के पिता ने अपना नाम सौरभ सक्सेना बताया। प्रधानमंत्री ने उनसे कुछ देर बात की।

इसके पहले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी फिर दोबारा डमरू वाले सरकार काशी पुराधिपति के दरबार में दर्शन पूजन के लिए पहुंचे। लगभग 20 मिनट तक दर्शन पूजन के बाद उन्होंने बाबा दरबार की लाइटिंग आदि को निहारा।

शहर में हुए बदलाव और बनारस रेलवे स्टेशन को भी देखा
देर रात प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ अपने कार से गोदौलिया—मैदागिन होते हुए कबीरचौरा से लहुराबीर चौराहे पहुंचे। फिर संपूर्णानंद संस्कृत विश्वविद्यालय के समीप से गुजरी सड़क से होते हुए चौकाघाट लकड़ी मंडी पहुंच गए। जहां से फ्लाइओवर को देखा फिर लहरतारा से मंडुआडीह होते हुए बनारस रेलवे स्टेशन पहुंच गए। स्टेशन परिसर में पैदल चलकर दूसरे प्रवेश द्वार पर लगे रेल इंजन के माडल को देखा। फिर स्टेशन प्लेटफार्म नंबर आठ पर पहुंच गए। कुछ देर प्लेटफार्म पर बीताने के बाद वीआइपी लाउंज के अंदर गए। इस दौरान यात्रियों और स्टाल पर मौजूद दुकानदारों का हाथ हिलाकर अभिवादन किया। पूरे स्टेशन को देखने के बाद साफ—सफाई को परखा फिर बरेका गेस्ट हाउस पहुंचे और रात्रि विश्राम किया।

Subscribe

- Never miss a story with notifications

- Gain full access to our premium content

- Browse free from up to 5 devices at once

Latest stories

spot_img