4.2 C
London
Wednesday, February 8, 2023
HomeTop Storyपड़ेगी दो उद्योगों की नींव, चार देश बनेंगे पार्टनर

पड़ेगी दो उद्योगों की नींव, चार देश बनेंगे पार्टनर

Date:

Related stories

spot_imgspot_img

रांची: झारखंड में पहली बार आयोजित होने जा रहा ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट कई उद्योगों और प्रतिष्ठानों की नींव रखे जाने का गवाह भी बनेगा। झारखंड सरकार इसे लेकर तैयारियों में जुटी है। सरकार चाहती है कि इस दौरान ज्यादा से ज्यादा उद्योग और प्रतिष्ठानों की आधारशिला रखी जाये, ताकि इस मौके पर देश-विदेश के निवेशक और अतिथियों की उपस्थिति इसे और भव्य बना दे। सरकार को उम्मीद है कि ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट के दौरान रांची में फूड प्रोसेसिंग प्लांट की आधारशिला रख दी जायेगी। इसके अलावा जमशेदपुर में टाटा ब्लू स्कोप प्लांट की स्थापना की आधारशिला भी रखने की तैयारी है। इसे लेकर राज्य के उद्योग और खनन विभाग द्वारा प्रयास शुरू कर दिये गये हैं।
राज्य के खान एवं उद्योग सचिव सुनील कुमार वर्णवाल का कहना है कि सीआइआइ (कंफेडरेशन आॅफ इंडियन इंडस्ट्री) के सहयोग से आयोजित हो रहे ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट के दौरान विभाग की ओर से रांची के नगड़ी में स्थापित होनेवाले फूड प्रोसेसिंग प्लांट और जमशेदपुर स्थित टाटा ब्लू स्कोप के 350 करोड़ की विस्तार योजना को मूर्त रूप दिये जाने का प्रयास अंतिम चरण में है।
ओरिएंट क्राफ्ट को टेक्सटाइल पार्क के लिए जमीन : राज्य सरकार समिट के दौरान टेक्सटाइल कंपनी ओरिएंट क्राफ्ट के मालिक सुधीर ढिंगरा को जमीन हस्तांतरण से संबंधित लेटर आॅफ इंटेंट सौंपने जा रही है। उन्हें होटवार में टेक्सटाइल उद्योग के लिए 25 एकड़ जमीन दी जा रही है।
पार्टनर देश तलाशेंगे संभावनाएं : ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट के चार पार्टनर देश इस दौरान झारखंड में संभावनाएं भी तलाशेंगे। उद्योग निदेशक के रविकुमार के मुताबिक जापान, ट्यूनेशिया, चेक गणराज्य और मलेशिया समिट के पार्टनर हैं। इन देशों की एंबैसी ने समिट की पार्टनरशिप के लिए सहमति दे दी है। इन देशों के उद्यमियों के अलावा एंबैसी के अधिकारी भी बतौर अतिथि समिट में शामिल होंगे। उनके कार्यक्रम से संबंधित पत्र प्राप्त हो गये हैं। उनके प्रतिनिधि समिट में विभिन्न सेमिनार और सेक्ट्रल कांफ्रेंस में भी हिस्सा लेंगे।
कॉफी टेबल बुक का होगा विमोचन : समिट के दौरान कॉफी टेबल बुक के विमोचन की तैयारी भी की जा रही है। इसका विमोचन उद्घाटन समारोह में ही कराने का प्रयास है। उद्योग निदेशक के रवि कुमार के अनुसार कॉफी टेबल बुक को समिट के फर्म एंड फैक्टर्स द्वारा तैयार किया गया है। इसमें झारखंड की तमाम विविधताओं के साथ ही राज्य से संबंधित सारी सूचनाएं शामिल की गयी हैं। साथ ही इसमें निवेश के फायदे, उपयोगिता, सुविधाएं, निवेश नीति आदि की विस्तृत जानकारी समाहित है। इसके साथ ही डेलीगेट्स को स्पेशल आॅफिशियल किट भी दिया जायेगा।

रतन टाटा रखेंगे टाटा ब्लू स्कोप की आधारशिला
सरकार रांची के होटवार स्थित मैन्युफैक्चरिंग हब में टेक्सटाइल उद्योगों को जमीन हस्तांतरण के लिए लेटर आॅफ इंटेंट देने पर भी विचार कर रही है। उद्योग सचिव सुनील कुमार वर्णवाल के अनुसार 16 फरवरी को समिट के उद्घाटन समारोह में भाग लेने के लिए देश के प्रसिद्ध उद्यमी रतन टाटा का आना लगभग तय है। इस दौरान टाटा ब्लू स्कोप के विस्तार की नींव रतन टाटा से ही रखवाने की योजना है। टाटा ब्लू स्कोप स्टील ने कोटेड स्टील उत्पादन की शुरुआत 2012 में की थी। यह लगभग 61 एकड़ में फैला है। इसकी वार्षिक उत्पादन क्षमता फिलहाल 2.50 लाख टन है।

Subscribe

- Never miss a story with notifications

- Gain full access to our premium content

- Browse free from up to 5 devices at once

Latest stories

spot_img